Breaking News
Home / मनोरंजन / फिल्मों में हीरो बनने के लिए घर से मुंबई के लिए निकल गया 7वीं का छात्र, रास्ते में ही परिवार ने कतर दिये पंख, जानें कैसे

फिल्मों में हीरो बनने के लिए घर से मुंबई के लिए निकल गया 7वीं का छात्र, रास्ते में ही परिवार ने कतर दिये पंख, जानें कैसे

सपने देखना बुरी बात नहीं मगर उनको हकीकत में लाना यह बहुत बड़ी बात है और साथ ही एक बात यह भी है आपका देखा हुआ सपना सही रास्ते पर जा रहा है आज के इस लेख में हम आपको एक घटना के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि किसी को सपना देखना काफी भारी पड़ा यह घटना बिहार से जुड़ी है डालते हैं एक नजर पूरे प्रकरण पर खबर कुछ इस तरह है बिहार के सहरसा जिले से जुड़ा हुआ एक मामला सामने आया है.

सहरसा जिले के सातवीं कक्षा का छात्र घर से भाग निकला हीरो बनने के लिए वैसे तो फिल्म इंडस्ट्री जितनी सबके लिए मनोरंजन का काम करती है वही बहुत सो के लिए नुकसानदायक भी है यहां की चकाचौंध देखकर पैसा शोहरत नेम और फेम पाने के लिए लोग अपने करियर बदल देते हैं यहां की रंगीली जिंदगी को देख कर अपने घर बार छोड़ आते हैं जिससे कि कुछ के सपने सफल हो जाते हैं और कुछ बर्बादी के रास्ते निकल जाते हैं इसी तरह फिल्मों की रंगीन चकाचौंध को देखकर सातवीं कक्षा का छात्र घर से भागकर मुंबई के लिए मगर कारणवश बीच मे उतार दिया गया सोशल मीडिया द्वारा मिली जानकारी के अनुसार बिहार के पटना जिले के रेलवे स्टेशन पर ही लड़के के सपनों के पँख काट दिए गए.

सातवीं कक्षा के इस छात्र का नाम अंकित राज है जो सहरसा है लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस एसी थर्ड बोगी में आरक्षण पर कराकर मुंबई के लिए जा रहा था मगर दुर्भाग्यवश ट्रेन पटना के पाटलिपुत्र पर ही पहुंच पाई थी तभी यहां पर आरपीएफ ट्रेन की जांच की जा रही थी और इसी बीच ट्रेन की थर्ड बोगी में एक लड़को को अकेला बैठा देखकर आरपीएफ के जवानों को संदेह हुआ,

 

और उन्होंने उससे पूछताछ शुरू कर दी पूछताछ में लड़के ने बड़ी निडरता से अपना नाम अमृतराज बताया और कहां मैं मुंबई जा रहा हूं. मगर साथ वाले लड़के ने बता दिया कि इसको हीरो बनना है तभी आरपीएफ के कर्मियों को नादान उम्र में ऐसी बातें सुनकर हैरत भी हुई और शक भी आरपीएफ के जवानों ने लड़की को तुरंत ही अपनी गिरफ्त में ले लिया,

और उसकी तलाशी लेने लगे सबसे चौंकाने वाली बात यह है लड़के के पास से ₹20000 नकद और एक लैपटॉप बरामद हुआ इस पूरी घटना के बाद आरपीएफ के जवान वालों ने लड़के के परिवार को सूचित कर दिया और मुंबई जाने वाला टिकट भी कैंसिल करवा दिया अब पुलिस के आगे वह लड़का बेबस और उदास था ।

sorce

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *