अयोध्या: राम मंदिर का आधा काम पूरा, अक्टूबर में बन जाएगा पहला तल

दोस्तों राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण तेजी से चल रहा है. अभी तक करीब 50 फीसदी निर्माण कार्य पूरा हो चुका है. गर्भ गृह की दीवारें पूरी हो चुकी हैं. राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा “पिलर, बीम के ऊपर छत का काम लगभग अक्टूबर में खत्म हो जाएगा. 2023 में ग्राउंड फ्लोर का काम हो जाएगा.विद्वानों का विचार है कि राम लला की मूर्ति खड़ी होनी चाहिए.राम के जीवन के 100 प्रसंग पत्थरों में उभारे जाएंगे. चारो ओर बनने वाले परकोटा की खुदाई शुरू हो गई है..चार कोने पर चार मंदिर होंगे

वहीं निषाद पार्टी की 10वीं संकल्प दिवस रैली में UP CM योगी आदित्यनाथ ने कहा पीएम मोदी के नेतृ्त्व में नए भारत में किसी के साथ भेदभाव नहीं किया जाता… दिसंबर 2023 में आयोध्या के राम मंदिर का निर्माण कार्य संपन्न हो जाएगा, ये भारत का राष्ट्र मंदिर है जहां समाज के हर तबके को सम्मान दिया जाएगा.

राम मंदिर में लगने वाले खंभों में 7 हजार मूर्तियां तराशी जाएंगी। उन्होंने कहा कि पिलर, बीम के ऊपर छत का काम लगभग अक्टूबर में खत्म हो जाएगा। इसके साथ ही राय ने कहा कि 2023 में ग्राउंड फ्लोर का काम हो जाएगा। खंभों और दीवारों पर करीब 7000 मूर्तियां बननी है उसके लिए मूर्तिकार ढूंढने का काम किया जा रहा है। चंपत राय ने बताया कि विद्वानों का विचार है कि राम लला की मूर्ति खड़ी होनी चाहिए। ये लगभग 5.5 फीट का होगा। उन्होंने कहा कि राम के जीवन के 100 प्रसंग पत्थरों में उभारे जाएंगे।

चंपत राय ने कहा कि चारो ओर बनने वाले परकोटा की खुदाई शुरू हो गई है..चार कोने पर चार मंदिर होंगे। फिलहाल यह बताया जा रहा है कि राम मंदिर का 70 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। गर्भगृह के पिलर 14 फीट तक बनकर तैयार हो चुके हैं। यह भी कहा जा रहा कि दूसरा चरण दिसंबर 2024 तक आकार लेगा

Related Posts