भरिया टीम के गेंदबाज़ मोहम्मद शमी की काबियाबी का सफर जिससे प्यार किया उसी ने धोका दिया

दोस्तों मोहम्मद शमी जैसे तेज गेंदबाज भारतीय टीम के लिए अपने प्रदर्शन के लिए जाने जाते हैं। इस गेंदबाज ने अपनी घातक गेंदबाजी से टीम इंडिया को कई मैच जिताने में अहम भूमिका निभाई है.टीम इंडिया में कई तेज गेंदबाज आए, लेकिन मोहम्मद शमी ने अपनी गेंदबाजी के दम पर क्रिकेट दर्शकों के बीच अपनी एक अलग पहचान बनाई है.शमी को अब वनडे और टी20 में ज्यादा मौके नहीं मिलते हैं। टेस्ट क्रिकेट में शमी को बादशाह माना जाता है. वह उत्तर प्रदेश के अमरोहा तालुक का रहने वाला है। तो चलिए दोस्तों मोहम्मद शमी के जीवन और क्रिकेट के बारे में अच्छे से जानते हैं। शमी ने साल 6 जून 2014 को हसीन जहाँ से शादी की थी. शमी और हसीन जहाँ एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे. इन दोनों आगे चलकर लव मैरिज कर ली. शादी के 1 साल बाद एक प्यारी सी बेटी के पिता बने जिनका नाम ऐरा शमी है. लेकिन कुछ विवादों के चलते ये दोनी ही एक दूसरे से अलग रहने लगे.

भारतीय टीम के स्टार गेदबाज मोहम्मद शमी का जन्म 3 सितंबर 1990 को अमरोहा, उत्तर प्रदेश में हुआ था. शमी को प्यार से लालाजी कहकर पुकारते है.तौसीफ अली मोहम्मद शमी के किसान पिता थे। उनकी मां का नाम अंजुम आरा है। शमी के तीन भाई हसीब अहमद, मोहम्मद आसिफ मोहम्मद कैफ और एक बहन सबीना अंजुम हैं। मोहम्मद शमी की एक खूबसूरत बेटी भी है जिसका नाम आयरह शमी है जिसका नाम हसीन जहां है जो एक मॉडल है। शमी के पिता ने शमी को क्रिकेट में करियर बनाने के लिए प्रेरित किया।

मोहम्मद शमी का करियर काफी उतार-चढ़ाव वाला रहा है। शमी ने 6 जनवरी 2013 को अपने पहले वनडे में पाकिस्तान के खिलाफ डेब्यू किया था। उस मैच में शमी ने केवल एक विकेट लिया था। एक के बाद एक कई रिकॉर्ड बनाने के बाद सभी चयनकर्ता इस खिलाड़ी में दिलचस्पी लेने लगे। अगले साल शमी ने वेस्टइंडीज टीम के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया। शमी ने उस मैच में 9 विकेट लिए थे। साथ ही मोहम्मद शमी ने अपना टी20 डेब्यू 2014 में पाकिस्तान के खिलाफ किया था, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान के उमर अकमल को शिकार बनाया था। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए वार्म-अप मैच में कप्तान रोहित शर्मा ने मोहम्मद शमी को उस वक्त मैदान पर बुलाया जब ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए महज 11 रन चाहिए थे और उसके हाथ में 5 विकेट थे. शमी ने कप्तान को निराश नहीं किया.

20वें ओवर की तीसरी गेंद पर शमी ने पैट कमिंस को विराट कोहली के हाथों कैच आउट करवाया. अगली ही गेंद पर शमी ने एगर को रन आउट किया. इसके बाद शमी ने लगातार दो यार्कर गेंदों पर जोश इंग्लिस और केन रिचर्डसन को बोल्ड कर मैच भारत की झोली में डाल दिया. अपने इस शानदार प्रदर्शन से मोहम्मद शमी ने भारतीय क्रिकेट फैंस को भरोसा दिलाया है कि वर्ल्ड कप में वह बुमराह की कमी को ज्यादा नहीं खलने देंगे.

Related Posts