Breaking News
Home / बॉलीवुड / करोना कहर के बीच सिनेमाघरों में ही फिल्में रिलीज करने पर अड़े-बड़े फिल्म मेकर्स….

करोना कहर के बीच सिनेमाघरों में ही फिल्में रिलीज करने पर अड़े-बड़े फिल्म मेकर्स….

आपको बता दें करो ना के कहर के कारण सभी पाबंदियों के चलते फिल्म सूर्यवंशी,राधे और मोस्ट वांटेड भाई,चेहरे और थलाइवली, जैसी बड़ी फिल्मों की रिलीज टाल दी गई है.यह कहा जा रहा है कि करोना के कारण हालात खराब है और मई जून में इन फिल्मों को रिलीज किया जाएगा बहुत सी फिल्म में को तो पिछले साल से बनाकर तैयार है.लेकिन मेंकर्ज रिलीज नहीं कर पा रहे हैं.जबकि ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्में रिलीज करने का एक विकल्प सभी फिल्म मेकर्स के पास है द बिग बुल, गुलाबो सिताबो और सड़क 2जैसी तमाम बड़ी फिल्में और ओ टी टी पर रिलीज हुई है ऐसे में कोई बड़े फिल्में कर रहे फिल्में सिनेमाघरों में ही रिलीज करने पर आखिर क्यों पड़े हैं.

आइए इस बात को समझते हैं….

आपको बता दें तो रोना के कारण फिल्म इंडस्ट्री की बहुत ही कष्ट भुगतने पड़ रहे हैं इसी कारण फिल्म मेकर्स को बहुत नुकसान भी हुआ है लॉक डाउन के कारण फिल्म इंडस्ट्री के करीब 10 हजार करोड़ रुपए का नुकसान भी हुआ है एक रिपोर्ट के मुताबिक बॉक्स ऑफिस से फिल्म इंडस्ट्री को हर वर्ष करीब पांच से छह हजार करोड रुपए का टर्न ओवर आता है. सेटेलाइट और ओटीपी राइट से करीब 8 9करोड रुपए मिलते हैं इसके अलावा म्यूजिक इंडस्ट्री से करीब तीन से चार हजार करोड़ रुपए की कमाई हो जाती है इस तरह बॉक्स ऑफिस बारू अरबों रुपए की कमाई करने वाली फिल्म इंडस्ट्री की कमर करोना के कारण टूट चुकी है।

सूर्यवंशी और 83 जैसी बड़ी फिल्मों के रिलीज कोरोना वायरस से लटकी हुई है।

बॉक्स ऑफिस पर कमाई कैसे होती है….

आपको बता दें किसी भी फिल्म को बनाने के लिए जो भी खर्च आता है वह प्रोडक्टशन हैं और इस फिल्म को बनाने के बाद डिस्ट्रीब्यूटर के द्वारा दुनिया भर के सिनेमाघरों में फिल्म रिलीज की जाती है.प्रोड्यूसर और थिएटर मालिक के बीच की कड़ी का काम डिस्ट्रीब्यूटर के कहलाता है. यहां डिस्ट्रीब्यूटर का रोल दो तरह से हैं पहले प्रोड्यूसर अपनी फिल्म के बजट में अपना मुनाफा जुड़ने के बाद डिस्ट्रीब्यूटर को भेज देता था. इसके पश्चात डिस्ट्रीब्यूटर सर्किट वाइस सिनेमाघरों में हुए कलेक्शन को क्लिक करता था. इसी पैसे को बॉक्स ऑफिस कलेक्शन कहा जाता है. मल्टीप्लेक्स और सिंगल स्क्रीन थिएटर मालिक वीकली कलेक्शन का एक निश्चित

हिस्सा डिस्ट्रीब्यूटर को दे देते हैं इसमें मनोरंजन कर भी काटा जाता है वर्तमान समय में बहुत से बड़े प्रोड्यूसर खुद ही फिल्मों के डिस्ट्रीब्यूशन का काम देखते हैं. इस तरह उनको फिल्मों से होने वाली कमाई भी मिल जाती है.फिल्म जितनी हिट हो जितनी ज्यादा से ज्यादा लोग देखें उसका कलेक्शन उतना ही ज्यादा हो जाता है.

Akshay Kumar Height, Age, Affairs, Biography, Upcoming Movies

OTT प्लेटफार्म पर कमाई कैसे होती है…

आपको बता दें ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्मों की कमाई किस तरह होती है अमेज़न प्राइम वीडियो ओं नेटफ्लिक्स एम एक्स प्लेयर अलर्ट बालाजी भूत और G5 जैसे ओटीटी प्लेटफॉर्म प्रोड्यूसर से फिल्म को रिलीज करने का खरीदते हैं प्रोड्यूसर जिस तरह अपनी फिल में डिस्ट्रीब्यूटर को बेचते हैं उसी तरह बजट में अपना मुनाफा जोड़कर ओटीटी प्लेटफॉर्म को भेज देते हैं यहां डिस्ट्रीब्यूटर की भूमिका में ओटीटी प्लेट फाम होते हैं एक ही अलग-अलग भाषाओं के लिए अलग होती है. वेब सीरीज की तरह ओटीटी प्लेटफॉर्म फिल्म को प्रोड्यूस भी करते हैं यानी फिल्म का निर्माण खुद करते हैं जैसे हाल ही में डिजनी प्लस हॉटस्टार ने एक साथ कई फिल्मों के निर्माण के लिए करार किया था. जिसमें फिल्म दिल बेचारा, लूट के खुदा हाफिज,सड़क 2,लक्ष्मी और द बिग बुल शामिल है.

ओटीटी पर रिलीज वेब सीरीज दिल्ली क्राइम की दुनिया भर में चर्चा हुई थी.

आपको बता दें सबसे बड़ा और दिलचस्प सवाल यह है कि बॉक्स ऑफिस पर और ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्मों की कमाई में अंतर क्या होता है जब ओटीटी प्लेटफॉर्म फिल्म प्रोड्यूसर को उनका बजट मुनाफा जोड़कर पैसे दे देते हैं तो हम घटा कैसे होता है बड़े फिल्म मेकर्स ओटीटी प्लेटफॉर्म की बजाय सिनेमाघरों में फिल्म रिलीज करना बेहतर क्यों समझते हैं आपको बता दें ओटीटी प्लेटफॉर्म एक निश्चित रकम देकर फिल्मों के राइट्स खरीद लेता है ऐसे में प्रोड्यूसर्स को एक निश्चित फायदा ही हो पाता है वहीं फिल्म में जब सिनेमाघरों में रिलीज होती हैं और हिट हो जाती हैं तो उनकी कमाई उसी हिसाब से बढ़ती जाती है क्योंकि क्योंकि बहुत से प्रोड्यूसर खुद ही डिस्ट्रीब्यूटर होते हैं ऐसे में बॉक्स ऑफिस पर होने वाला मुनाफा सीधे उनकी जेब में आता है.बॉक्स ऑफिस पर हमेशा बेहिसाब कमाई होने की संभावनाएं रहती हैं. इससे भी बड़ी बात यह है कि यदि कोई फिल्म सिनेमा घर में रिलीज भी हो गई हो तो भी ओटीटी और सेटेलाइट राइट बेचने पर कई बार फिल्म की लागत निकल जाती है.

ओटीटी पर रिलीज बड़ी फिल्मों की कमाई…

आपको बता दें करुणा के कारण लॉक डाउन हो जाने की वजह से सिनेमा घर बन कर दिए गए तो कई बड़ी फिल्म मेकर्स ने संकट का सामना करना पड़ा उसी दौरान ओटीटी प्लेटफॉर्म ने प्रोडक्ट्स को एक ऑफर देकर कहा कि आप अपनी फिल्म को एक्सक्लूसिव मेरे प्लेटफार्म पर रिलीज करें पहले तो प्रोडक्शन हाउस वाले इस तरह के ऑफर से डरते थे कहीं उनकी फिल्म फ्लॉप ना हो जाए लेकिन जब धीरे-धीरे अमेज़न नेटफ्लिक्स और जी 5 जैसे ओटीटी प्लेटफॉर्म का विस्तार हुआ कई देशों में इसकी स्ट्रीमिंग बड़ी तो बॉलीवुड के बड़े छोटे प्रोडक्शन हाउस ने भी अपनी छोटी बड़ी फिल्मों को ओटीटी पर रिलीज करना शुरू कर दिया अमिताभ बच्चन की फिल्म गुलाबो सिताबो अक्षय कुमार की लक्ष्मी संजय दत्त की सड़क टू अजय देवगन की भूत,अभिषेक बच्चन की द बिग बुल और विद्युत जमवाल की खुदा हाफिज रिलीज हुई.

डिजनी प्लस हॉटस्टार अभिषेक बच्चन की फिल्म द बिग बुल हाल ही में रिलीज हुई है..गुलाबो सिताबो 65 करोड़ लक्ष्मी 125 करोड़ भुज 110 द बिग बुल 40 करोड़ खुदा हाफिज 10 करोड़ शकुंतला देवी 40 करोड़ गुंजन सक्सेना 50 करोड़ सड़क 70 करोड़ .

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *