भारत के पूर्व कोच को एक बेटी की मां से हुई मोहब्बत प्यार पाने के लिए लड़ी लंबी लड़ाई

चर्चा करेंगे भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले जिन्होंने काफी संघर्ष किया और वह संघर्ष के लिए ही जाने जाते हैं. उन्होंने अपने टूटे जबड़े के साथ गेंदबाजी की आज भी यह वाक्य लोगों को याद है. कि टीम इंडिया का यह दिग्गज खिलाड़ी कभी परेशानी से नहीं घबराया और हर चुनौती का डटकर सामना किया सफलता प्राप्त की. भारतीय टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले ने अपने निजी जीवन में भी मोहब्बत पाने के लिए काफी मुश्किलों का सामना किया. दिग्गज खिलाड़ी अनिल कुंबले के निजी जीवन से जुड़ी कुछ किससे आपसे साझा करेंगे जिसे लोग कम ही लोग जानते होंगे.

Former India coach fell in love with a daughter's mother, fought a long battle to find love
Former India coach fell in love with a daughter’s mother, fought a long battle to find love

आपको बता दें ज़ब मशहूर अनिल कुंबले को प्यार हुआ वह भी शादीशुदा महिला से इतना ही नहीं पहले से एक बेटी की मां थी लेग स्पिनर कुम्भले को ट्रैवल एजेंसी में काम करने वाली चेतना रामतीर्थ से पहली मुलाकात में ही प्यार हो गया था.चेतना ने 1986 में एक स्टोर ब्रोकर से शादी की थी. लेकिन वह अपनी निजी जीवन से खुश नहीं थी नौकरी करना शुरू करदिया था.

 

Former India coach fell in love with a daughter's mother, fought a long battle to find love
Former India coach fell in love with a daughter’s mother, fought a long battle to find love

खिलाड़ी अनिल कुंबले को पहली मुलाकात में चेतना काफी पसंद आई थी.इसके बाद दोनों में दोस्ती हो गई. चेतना नए रिश्ते के लिए तैयार न थी उनका कहना था रिश्ते पर भरोसा कर पाना कठिन है. लेकिन उन्होंने 1998 पति से अलग होने का निर्णय किया.इसमें कुंबले ने पूरा साथ दिया. इसके बाद अनिल कुंबले ने शादी के लिए उन्हें प्रपोज किया. लेकिन चेतना ने शादी के लिए इनकार कर दिया.

Former India coach fell in love with a daughter's mother, fought a long battle to find love
Former India coach fell in love with a daughter’s mother, fought a long battle to find love

आपको बता दें चेतना ने आखिरकार अनिल कुंबले के प्यार को स्वीकार कर ही लिया और दोनों ने 1999 में शादी कर ली उस समय चेतना की 4 साल की बेटी आरूणि थी. कुंबले के लिए बेटी के साथ रखना आसान नहीं रहा. उसके लिए चेतना और कुंबले को कोर्ट तक जाना पड़ा. शुरू में कोर्ट में उनकी कुछ सुनवाई ना हुई.अंत में कोर्ट ने चेतना के पक्ष में फैसला सुनाया फिर कुंबले ने अरुणी को अपना नाम दिया.आपको बता दें अनिल कुंबले अब अपने तीन बच्चों के साथ रह रहे हैं बेटे का नाम मायास और बेटी का नाम स्वस्ति कुंबले है उन्हें जंगल और जानवर बहुत पसंद है इसी कारण वे ज्यादातर वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी करते हुए पाए जाते हैं और सोशल मीडिया पर तस्वीरें भी शेयर करते रहते हैं लेकिन बतौर कोच टीम इंडिया के साथ उनका कार्यकाल कुछ खास ना रहा कप्तान विराट कोहली से उनका मतभेद हो गया और उन्होंने कोचिंग छोड़ दी थी.आपको बता दें खिलाड़ी अनिल कुंबले को अर्जुन अवार्ड के अलावा पदम श्री से भी नवाजा जा चुका है. वे आईसीसी हाल ऑफ में भी शामिल हो चुके हैं. वर्ष 1996 में उन्हें विस्डन क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी चुना गया था और भारतीय कप्तान कुंबले T20 आईपीएल में खेलने के अलावा कोचिंग भी दे चुके हैं.52 वर्ष के अनिल कुंबले ने टेस्ट और वनडे दोनों फॉर्मेट में 300 से अधिक विकेट चटकाए. उन्होंने 132 टेस्ट में 619 विकेट लिए हैं और 35 बार 5 बार 8 बार 10 विकेट लिए हैं. 74 रन देकर 10 विकेट बेस्ट प्रदर्शन है. वह 271 वनडे में 337 विकेट भी झटका चुके हैं. 12 रन देकर छह विकेट सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है.उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 1136 विकेट लेने के अलावा ओवरआल T20 में 57 विकेट लिए हैं. लिस्ट ए क्रिकेट की बात की जाए तो इस लैग इसपनर ने 514 विकेट अपने नाम किए हैं.

Related Posts