बेटी पैदा होते ही क्या जय भानुशाली और माहि विज ने छोड़ दी गोद ली हुई बेटी ?एक्ट्रेस ने खुद बताई साड़ी सच्चाई

टीवी जगत के बेस्ट कपल जय भानुशाली और माही विज ने साल 2017 में 2 बच्चों को गोद लिया था. एक बेटा राजवीर और एक बेटी खुशी और यह दोनों बच्चे उनके घर पर काम करने वाली महिला के थे. दो बच्चों को गोद लेने के बाद माही विज ने साल 2019 में एक बेटी को जन्म दिया. जिसका नाम उन्होंने तारा रखा है. लेकिन अब सोशल मीडिया पर खबरें आ रही हैं कि जय भानुशाली और माही विज ने अपनी बेटी के जन्म के बाद दोनों गोद लिए हुए बच्चों को छोड़ दिया है. और इसी वजह से यह कपल सुर्खियों में बने हुए हैं.

लेकिन अभिनेता जय भानुशाली और माही विज पर लगाए जाने वाले आरोप पूरी तरह से गलत है, इस बात का खुलासा कपल ने खुद किया है. जब से यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई है कि जय भानुशाली और महावीर ने अपने दोनों गोद लिए बच्चों को छोड़ दिया है तब से लोग, सोशल मीडिया पर उनकी निंदा और आलोचनाएं कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर एक ओपन लेटर लिखकर जय भानुशाली और माही विज ने अपने ऊपर लगाए गए सभी आरोपों का मुंहतोड़ जवाब दिया है. इस ओपन लेटर के जरिए इस कपल ने बताया कि वह अभी अपने तीनों बच्चों के साथ में रहते हैं.कुछ समय पहले माही को अपने बेटी तारा के साथ एयरपोर्ट पर देखा गया था. और उस समय भी उनके दोनों बच्चे खुशी और राजवीर उनके साथ में नहीं थे. माही के साथ खुशी और राजवीर की अनुपस्थिति में उनके ऊपर लाखो सवाल खड़े कर दिए हैं. अनेकों लोगों का मानना है कि बेटी तारा के जन्म के बाद जय भानुशाली और माही विज ने अपने दोनों गोद लिए हुए बच्चों को छोड़ दिया है.

लेकिन अब सोशल मीडिया पर ऊपर लेटर लिखकर, जय भानुशाली और माही विज ने लोगों की बोलती बंद कर दी है. इस कपल का कहना है कि आज भी हम तीनों बच्चों में किसी तरह का कोई भी भेदभाव नहीं करते हैं खुशी और राजवीर भी हमारे साथ में रहते हैं. हम खुशी और राजवीर के माता-पिता हैं और अब एक माता-पिता अपने बच्चों को किस प्रकार छोड़ सकते हैं. खुशी और राजवीर को हमने जरूर गोद लिया है लेकिन हम आज भी अपने तीनों बच्चों को एक समान प्यार करते हैं और इन तीनों की परवरिश में किसी तरह की कोई भी कमी नहीं आने देते.

सोशल मीडिया पर बहुत लंबे समय से हम पर आरोप लगाए जा रहे हैं.इस ओपन लेटर में लिखकर यह भी कहा है कि खुशी और राजवीर को हमने वह जरूर लिया है लेकिन माता-पिता बनने का सुख क्या होता है. हमें खुशी और राजवीर से पता चला है. तारा के जन्म के बाद हमने खुशी और राजवीर की परवरिश में किसी तरह की कोई भी कमी नहीं आने दी है. इस ओपन लेटर के जरिए जय भानुशाली और माही यह लिखकर भी बताया है कि उनके बच्चे अभी कहां है.

खुशी और राजवीर मुंबई में कुछ समय रहने के बाद अपने दादा दादी के घर पर रहने के लिए चले गए हैं. जय भानुशाली का यह भी कहना है कि हमने खुशी और राजवीर को जरूर गोद लिया है लेकिन उन पर पहला अधिकार उनके बायोलॉजिकल पेरेंट्स का है. और उन्होंने लोगों से अपील भी की है वह इस तरह की बातों को बढ़ावा ना दें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *