Breaking News
Home / समाचार / प्रधानमंत्री के नए विमान की तस्वीर आई सामने, आधुनिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से होगा लैस ,देखे जूम कर के

प्रधानमंत्री के नए विमान की तस्वीर आई सामने, आधुनिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से होगा लैस ,देखे जूम कर के

दोस्तों इन दिनों सोशल मीडिया पर बोइंग 777 की तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। यह विमान प्रधानमंत्री और अन्य खास लोगों के फ्लीट के लिए है। यह विमान अभी भारत नही पहुचा है,भारत पहुचने से पहले ही इसकी फोटो एक सोशल मीडिया साइट फ़्लिकर पर देखने को मिली है। बता दें कि इस विमान कि बॉडी पर भारत और इंडिया भी लिखा हुआ है। अभी तक वर्तमान में जो फ्लीट था उसके ऊपर एयर इंडिया लिखा देखा जाता है। खबरों की माने तो यह विमान जब भारत आ जायेगा उसके बाद इस विमान का कॉल साइन इंडिया वन अथवा इंडियन एयरफोर्स वन होने की संभावना है। वर्तमान में इस विमान का कॉल साइन “एयर इंडिया वन” है।

बता दें कि जानकारी यह भी है कि जिस तरह अमेरिका के राष्ट्रपति के विमान एयरफोर्स वन के समान ही भारत के प्राइममिनिस्टर के एयरक्राफ्ट में भी मिसाइल डिफेंस सिस्टम एवम इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट भी मौजूद होगा। बता दें कि इस विमान का इस्तमाल भारत के प्राइममिनिस्टर ,राष्ट्रपति एवम उपराष्ट्रपति के विदेश दौरों के लिए किया जाएगा। सितंबर माफ तक यह सम्भावना है कि इस फ्लीट का यह एयरक्राफ्ट भारत को प्राप्त हो जाएगा। और आने वाले साल में ही इस विमान पर उड़ान भी शुरू हो जाएगी। फिलहाल कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विदेश यात्राएं बंद चल रही हैं।

बत के की वर्तमान समय मे भारत के पास वीवीआइपी फ्लीट में बोइंग 747 एयरक्राफ्ट मौजूद है और इस एयरक्राफ्ट का सारा दायित्व एयर इंडिया के पास है। बता दें कि इस विमान के पायलट भारतीय वायुसेना के होते हैं। लेकिन अब जो नए विमान शामिल किए जाएंगे उनकी पूरी पूरी जिमेदारी भारतीय वायुसेना की होगी। यह विमान भारतीय वायुसेना के वीआईपी स्कावड्रन का ही एक हिस्सा होंगे। इन विमानों की सुरक्षा का जिम्मा स्पेशल प्रोटेक्शन समूह के कमांडोज के ऊपर होगी।

इसके अलावा इन विमानों की हवाई सुरक्षा का सारा जिम्मा वायुसेना के हवाले होगा। बता दें कि साल 2014 में प्रधानमंत्री के अमेरिका के दौरे से लौटते वक्त उनके विमान बोइंग 747 मलेशिया के विमान एमएस 17 के नजदीक ही उडान भरा था। इस विमान को यूक्रेन की मिज़ाइल ने ध्वस्त कर दिया था। इस घटना के बाद से प्रधानमंत्री की सुरक्षा को नजर में रखते हुए इस नए एयरक्राफ्ट को खरीदने का विचार बनाया गया था।

बता दें कि इन दो नए विमानों को खरीदने का ऑर्डर साल 2018 में अमेरिका की कम्पनी को दिया गया था। इन विमानीं मे रक्षा की आधुनिक प्रणाली का उपयोग किया जाएगा इन दोनों की कीमत 190 मिलियन डॉलर है। बता दें कि बोइंग 777 में यह विशेषता है कि यह विमान बिना नया ईंधन भरे दिल्ली से सीधे न्यूयॉर्क के लिए उड़ान भर सकता है। जबकि वर्तमान की बोइंग 747 विमान को दिल्ली अमेरिका की उड़ान के दौरान योरोप के हवाई अड्डे पर ईंधन भरना पड़ता है।

 

 

About Shambhavi Misra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *