Breaking News
Home / बॉलीवुड / किस्सा, जब सतीश शाह को एक आईकॉनिक फिल्म यूपी 50 से ₹100 कि किस्तों में मिली थी…..

किस्सा, जब सतीश शाह को एक आईकॉनिक फिल्म यूपी 50 से ₹100 कि किस्तों में मिली थी…..

बॉलीवुड फिल्मी दुनिया का ऐसा नाम जिसने अपने अभिनय से ऐसी पहचान बनाई है कि उन्हें उनके अभिनय के कारण आज भी लोग ना भूल पाए हैं कोई और नहीं हम बात करेंगे सतीश शाह की. सतीश शाह बॉलीवुड के एक महान एक्टर हैं जिनकी कॉमिक टाइमिंग के लोग कायल हैं. यह एक ऐसे कलाकार हैं जिन्होंने बड़े पर्दे के साथ साथ छोटे पर्दे पर भी अपनी अभिनय के रंग बिखेरे हैं. अगर हम छोटे पर्दे टीवी सीरियल की बात करें तो इन्होंने बहुत से सीरियल्स में अभिनय किया है.

जैसे जाने भी दो यारो,यह जो है ज़िंदगी,साराभाई वर्सेस साराभाई, वही फिल्मों की बात की जाए फिल्म मैं हूं ना, कल हो ना हो, फना,ओम शांति ओम, ऑल द बेस्ट,  हम आपके हैं कौन, जैसी शानदार फिल्मों में बखूबी अभिनय किया है. वहीं टीवी सीरियल्स में सतीश शाह ने 1 वर्ष के अंदर ही लगभग 60 से अधिक किरदार निभाए थे.

सतीश भले ही छोटे रोल करते हैं ऊपर उनका हर किरदार में एक खास बात होती है. उनकी फिल्म जाने भी दो यारो में उन्होंने एक लाश का रोल निभाया था उसे देख ऐसा लगता था कि सच में वह एक लाश हो.इस फिल्म से जुड़े एक दिलचस्प वाकया है उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था उन्होंने कहा कि कैसे फिल्म बनी और कैसे सतीश शाह को उनकी पेमेंट मिली थी.जाने भी दो यारो हिंदी सिनेमा की एक आईकॉनिक फिल्म है इसे कुंदन शाह ने डायरेक्ट किया था और इसमें नसरुद्दीन शाह, सतीश शाह रवि, ओमपुरी नीना गुप्ता और भक्ति बर्वे जैसे स्टार्स थे सतीश शाह ने इस फिल्म के बारे में बताते हुए कहा कि यह फिल्म के बनने में भगवान का भी बहुत बड़ा हाथ था यह फिल्म जैसे बनी इस पर कोई किताब भी लिखी जा सकती है उस समय फिल्म ज्यादा बजट की नहीं होती थी और इस फिल्म का बजट 8 लाख था.

जाने भी दो यारो वह क्लासिक फिल्म जिसने डार्क कॉमेडी के द्वारा दर्शकों को हंसाने का काम किया था.फिल्म का बजट 8 लाख था तो आप सब को इस बात को खुद ही समझ सकते हैं कि मुझे कितनी फीस मिली होगी मुझे 50 और ₹100 के चेक मिला करते थे यानी कि मुझे मेरी फीस भी इंस्टॉलमेंट में मिली थी.

इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि जब वह फिल्म इंडस्ट्री में स्ट्रगल कर रहे थे तब प्रोड्यूसर उस एक्टर को साइन करने के लिए बेताब रहते थे जिसके पास डेट नहीं होती थी यह बातें सतीषा को बहुत ही हास्यपिरद लगती थी कि जिनके पास काम नहीं है उन्हें कोई पूछ नहीं रहा और जिनके पास है उनके पीछे लोग पगलाए हैं यह वह दौर था जब जिस एक्टर के पास है डेट नहीं होती थी उसे उतना ही बड़ा स्टार कहा जाता था।

सतीश शाह जहां है उन्होंने यहां तक पहुंचने के लिए काफी स्ट्रगल किया है। आज भी अपने अभिनय से उन्होंने बॉलीवुड और टीवी दुनिया में खास पहचान की वजह से वह आज भी याद किए जाते हैं.

source

About Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *