‘ना उम्र की सीमा हो…’ बेटी की उम्र की लड़की और बस ड्राइवर को हुआ प्‍यार, शहजादी ने किया इश्‍क का इजहार, फिर…

दोस्तों पाकिस्तान के लाहौर से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। दरअसल यहां एक लड़की को अपने पिता की उम्र के बस ड्राइवर से प्यार हो गया और बाद में दोनों ने शादी रचा ली। लड़की ने बताया कि वो बस में रोज सफर करती थी और उसको ड्राइवर की तरफ से बस में बजाए जाने वाले खूब पसंद थे। धीरे-धीरे गानों के साथ-साथ उसको बस ड्राइवर से भी प्यार हो गया। हालांकि, इस दौरान उसने दोनों की उम्र के बीच एक बड़े अंतर को नजरअंदाज किया और शादी कर ली।

कहते हैं कि प्यार किसी को भी, किसी से भी और कहीं भी हो सकता है। ये न रंग-रूप देखता है, न जात-पात और न ही जगह। कई लड़के-लड़कियों को तो पार्क में बैठे-बैठे ही एक दूसरे से प्यार हो जाता है, तो कई लड़के-लड़कियां स्कूल या कॉलेज के क्लासरूम में बैठे-बैठे ही पहली नजर में एक दूसरे को दिल दे बैठते हैं। वैसे कुछ प्यार सफर के दौरान भी हो जाते हैं, लेकिन ऐसा शायद ही कभी देखने को मिलता है कि सफर के दौरान हुए प्यार की कहानी शादी तक पहुंच जाए, पर पाकिस्तान में एक ऐसा ही मामला आजकल चर्चा का विषय बना हुआ है। यहां एक बस ड्राइवर और महिला पैसेंजर ने एक दूसरे से शादी रचा ली है। उनके ‘सफर, इश्क और शादी’ की कहानी बड़ी ही दिलचस्प है।

लड़की का नाम शहजादी और बस ड्राइवर का नाम सादिक है और यूट्यूब चैनल से बात करते हुए लड़की शहजादी ने कहा कि, वो पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की रहने वाली है और वो चन्नू से लाहौर तक बस से यात्रा करती थी, जिसके ड्राइवर साजिक थे। लड़की शहजादी ने कहा कि, साजिक के बस चलाने का अंदाज का उसे काफी पसंद आता था। इंटरव्यू में शहजादी ने बताया कि, वह पंजाब प्रांत के मिया छन्नू से लाहौर जाया करती थीं और जिस बस में सफर करती थीं उसका ड्राइवर सादिक था। शहजादी को सादिक की गाड़ी चलाने से लेकर उसके उठने-बैठने तक, सब कुछ अच्छा लगता था और साजिक की अदाओं पर वो फिदा होने लगी थी। शहजादी ने कहा कि, उसका सफर हर दिन सबसे आखिर में आता था, इसीलिए वो सबसे आखिर में उतरती थी और इस दौरान सादिक बस में पुराने गाने बजाया करता था। शहजादी ने कहा कि, धीरे धीरे उन दोनों को प्यार हो गया।

Related Posts