UP: ससुराल जाने से पहले परीक्षा देने पहुंची दुल्हन, हर कोई कर रहा तारीफ

दोस्तों एक कहावत है कि ‘एक पुरुष को शिक्षित करके हम सिर्फ एक ही व्यक्ति को शिक्षित कर सकते हैं लेकिन एक नारी को शिक्षित करके हम पूरे देश को शिक्षित कर सकते हैं’। किसी देश और समाज की तो छोड़िये हम अपने परिवार के उन्नति की कल्पना भी स्त्री शिक्षा के बिना नहीं कर सकते हैं। किसी भी लोकतंत्र की यह नींव है कि स्त्री और पुरुष को बराबर शिक्षा प्राप्त करने का हक़ हो। एक पढ़ी लिखी स्त्री ही समाज में ख़ुशी और शांति ला सकती है। कहते हैं कि बच्चे इस देश का भविष्य हैं और एक नारी ही माँ के रूप में उसके पहले शिक्षा का श्रोत है। इसी कारणवस एक स्त्री का शिक्षित होना बहुत ज़रूरी है। एक शिक्षित नारी ना केवल अपने गृह का बल्कि पूरे समाज को सही दिशा प्रदान करती है। हर एक स्त्री को अपनी इच्छानुसार शिक्षा ग्रहण करने का हक़ है और उस क्षेत्र में कार्य कर सकें जिनमे वह कुशल हैं। स्त्री शिक्षा का महत्व विभ्भिन तरीके से समाज के काम आता है.

ससुराल जाने से पहले परीक्षा देने पहुंची दुल्हन, हर कोई कर रहा तारीफ = भारत सरकार ने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का नारा दिया है. ऐसे में अगर कोई बेटी इस अभियान को साकार करती है, तो मां-बाप का सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है. ऐसा ही मामला यूपी के महोबा से सामने आया है. जहां एक बेटी विदाई से पहले परीक्षा देने कॉलेज पहुंची.दरअसल, महोबा शहर के वीरभूमि राजकीय महाविद्यालय में बीए तृतीय वर्ष की छात्रा रंजना कुमारी गुरुवार को विदाई से पहले परीक्षा देने पहुंची थी. द्वितीय पाली में उन्होंने 11 बजे से दोपहर दो बजे तक परीक्षा दी. इस दौरान बारात रुकी रही. परीक्षा होने के बाद दुल्हन की विदाई की गई.

जानकारी के मुताबिक, थाना खन्ना के तिंदुही गांव निवासी रंजना वीर भूमि कॉलेज में बीए तृतीय वर्ष की छात्रा है. बुधवार को रंजना की शादी हुई थी. बारात मध्य प्रदेश के नौगांव से आयी थी. पूरी रात शादी की रस्में अदा की गई. सुबह करीब दस बजे जब विदाई का समय आया तो रंजना ने अपने माता-पिता से कहा कि पहले मैं परीक्षा दूंगी और फिर विदाई होगी. जिस पर मां-बाप ने रंजना को कॉलेज भेज दिया. हाथों में मेहंदी और लाल जोड़े में सजी दुल्हन कॉलेज पहुंची. वहां उन्होंने हिंदी साहित्य की परीक्षा दी. इस दौरान दूल्हा राजेश कुमार और बाराती दुल्हन की परीक्षा देकर आने का इंतजार करते रहे.

Related Posts